A to E Beawar News Latest

भाजपा को 38, कांग्रेस को 21 मत मिले जबकि एक मत हो गया निरस्त, उपसभापति पद पर कांग्रेस की सरस्वती शर्मा को मिली पराजय

नगर परिषद में उपसभापति चुनाव में भी भाजपा ने बाजी मारी। मतदान के तुरंत बाद हुई मतगणना में भाजपा को जहां 38 मत मिले वहीं कांग्रेस को 21 मत, जबकि एक मत निरस्त हो गया। उपसभापति चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी वार्ड नंबर 44 के पार्षद रिखबचंद खटोड़ थे तो कांग्रेस की ओर से प्रत्याशी वार्ड नंबर 38 की पार्षद सरस्वती शर्मा थी।

मालूम हो कि नगर परिषद चुनाव प्रक्रिया के तहत बुधवार को उपसभापति पद के लिए चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सुबह 10 बजे बैठक शुरू हुई। सुबह 11 बजे नामांकन पत्र पेश किए गए।

भाजपा की ओर से पार्षद रिखबचंद खटोड़ और कांग्रेस की ओर से सरस्वती शर्मा ने अपना नामांकन पेश किया। इसके बाद सुबह 11.30 बजे ही नामांकन पत्रों की संवीक्षा और दोपहर 2 बजे नाम वापसी प्रक्रिया संपन्न हुई। निर्धारित समयावधि बाद निर्वाचन अधिकारी की ओर से मतदान की प्रक्रिया शुरू की गई। मतदान प्रक्रिया शुरू होने के बाद पहले कांग्रेस पार्षद पीसीसी सचिव पारस पंच के नेतृत्व में नगर परिषद पहुंचे।

जहां वे परिषद सभागार में वार्ड क्रमानुसार रखी कुर्सियों पर बैठे। इसी हिसाब से उन्होंने मतदान भी किया अैर बाहर निकल गए। थोड़ी ही देर बाद भाजपा पार्षद भी विधायक शंकरसिंह रावत और सभापति नरेश कनोजिया के नेतृत्व में पहुंचे। वे भी सभागार में प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्था के तहत अपनी निर्धारित कुर्सियों पर जाकर बैठे। जहां एक-एक कर वे आयुक्त कक्ष में मतदान के लिए गए।

यहां वे पीछे रखी कुर्सियों पर य बाहर आकर आपस में बतियाने लगे। मतदान समाप्ति के बाद मतगणना शुरू हुई। इसमें कांग्रेस प्रत्याशी की ओर से पीसीसी सचिव पारस पंच बैठे तो भाजपा की ओर से विधायक शंकरसिंह रावत बैठे। मतगणना कक्ष से पहले पीसीसी सचिव पारस पंच निकले। जहां उन्होंने बताया कि भाजपा को 38, कांग्रेस के पक्ष में 21 और एक मत को निरस्त किया गया।

निर्वाचन अधिकारी ने भी उपसभापति चुनाव में भाजपा प्रत्याशी रिखबचंद खटोड़ को विजयी घोषित किया। पुलिस ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार नवनिर्वाचित उपसभापति रिखबचंद खटोड़ को पुलिस वाहन में बैठाकर उनके घर पर छोड़ा।

इससे पूर्व पदाधिकारियों द्वारा पुलिस प्रशासन से उन्हें अपने वाहन से घर छोडऩे का आग्रह किया गया मगर पुलिस अधिकारियों ने प्रशासन के दिशा-निर्देशों और सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्हें समझाइश कर रिखबचंद खटोड़ को अपने वाहन में बैठाकर घर छोड़ा।

News Source

Related posts

Wingate Computers Beawar

Rakesh Jain

JP Collection Beawar

Rakesh Jain

नहीं रखेंगे सफाई तो कैसे जीतेंगे संक्रमण से जंग

Beawar Plus