Beawar Plus
Beawar News

मदर्स डे पर दो महिलाओं ने पेश की मिसाल

30 बच्चों को मिल चुका है नया जीवन

राजकीयअमृतकौर अस्पताल के मदर मिल्क बैंक में रविवार को दो मांओं ने अपने बच्चे के हिस्से का दूध दान कर मदर्स डे पर मिसाल पेश की। दूध दान को लेकर राज्य सरकार के स्टेट एडवाइजर योगगुरु डॉ. देवेंद्र अग्रवाल ने कहा कि अपनी धन दौलत तो दुनिया को कोई भी व्यक्ति दान कर सकता है लेकिन अपने बच्चे की भूख दान करना सिर्फ दुनिया का सबसे बड़ा दान है बल्कि उससे बड़ा कोई पुण्य भी नहीं। मदर्स डे पर ब्यावर के मदर मिल्क बैंक में दूध दान करने के बाद दोनों ने बहुत खुशी जताई। हालांकि मदर्स डे पर अन्य महिलाओं ने भी मिल्क डोनेशन के लिए सहमति दी लेकिन मिल्क बैंक की सफाई के कारण दो महिलाएं ही दूध दान कर सकीं।

सबसे सुखद अहसास

^आजदूध दान करने वाला पल मेरे जीवन का सबसे सुखद पल और अहसास है। एक मां के लिए इससे बेहतर और क्या होगा कि वो अपने बच्चे के साथ ही दूसरे के बच्चे की जान की रक्षा कर सके। जरूरत पड़ी तो मदर्स डे पर क्या कभी भी दूध दान कर सकती हूं। गीता,मिल्क डोनर

News Source

Related posts

कोई भी दस्तावेज नहीं लाया 18 संचालकों को दिए नोटिस

सुगंध दशमी पर मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना

niki741

शहरी क्षेत्र में 15 ट्रांसफार्मर किए स्थापित

niki741