A to E Beawar News Latest

ब्यावर डिपो की राेडवेज बसाें का 8 रूट पर संचालन बंद

रोडवेज के ब्यावर डिपाे में संचालित चार बसों के कंडम श्रेणी में आने के कारण उन्हें मार्ग से हटा दिया गया है। इसके अलावा डिपाे की पांच बसों को मुख्यालय के आदेश पर जोधपुर आगार को भेज दिया गया है। इस कारण 8 रूटाें पर बसाें का संचालन बंद हाे गया है। इससे जहां यात्रियाें काे परेशानी का सामना करना पड़ रहा है वहीं राेडवेज काे भी राजस्व का नुकसान हाे रहा है। 

जानकारी के अनुसार बसाें की कमी से ब्यावर-जयपुर, ब्यावर-जोधपुर, ब्यावर-अजमेर, ब्यावर-पाली, ब्यावर-उदयपुर, ब्यावर-भीलवाड़ा, ब्यावर-नसीराबाद, ब्यावर-जीसीए आदि मार्गो पर बसों का संचालन बंद कर दिया गया है। ऐसे में उक्त मार्गों पर यात्रा करने वाले यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें अब प्राइवेट वाहनों का सहारा लेने काे मजबूर हाेना पड़ रहा है। डिपाे मैनेजर रघुराज सिंह राजावत ने बताया कि हाल ही में आगार की चार बसें मार्ग पर चलने योग्य नहीं रहीं। नियमों से बाहर हो जाने के कारण उन्हें मार्ग से हटा कर उनका पंजीयन रद्द करवा दिया गया है। इसके अतिरिक्त डिपो से पांच बसे मुख्यालय के निर्देश पर जोधपुर आगार को उपलब्ध करवाई गई थी। उनके बदले में आज तक अन्य बसे आगार को नही दी गई है। जिस कारण ब्यावर आगार के कई मार्ग बंद हो गए हैं। ऐसी स्थिति में आगार की राजस्व पर भी प्रभाव पड़ रहा है। मामले में आगार प्रबंधन ने मुख्यालय को एक मांग पत्र भेज कर आगार को 9 बसे उपलब्ध करवाने की मांग की है ताकि बंद हुए मार्गों पर बसों का संचालन फिर से शुरू किया जा सके। 

ब्यावर आगार में बसों की कमी के कारण बंद पड़े टिकट विंडो। 

ये है स्थिति 

आगार के बेड़े में कुल 87 बस हैं। इसमें आगार की 26 बड़ी व 16 मिनी बसों के साथ ही 45 अनुबंधित बसें है। आलम यह है कि जो 26 बड़ी बसे आगार की संचालित हो रही है, वह भी तय किलोमीटर के साथ 8 वर्ष पूरे कर चुकी है। लेकिन बसों को इसके बावजूद भी मार्गो पर दौड़ाया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यालय की ओर से आगार को 93 रूटों पर बसों का संचालन करना है, लेकिन बसों की कमी के चलते वर्तमान में 84 रूटों पर ही बसों का संचालन हो रहा है। 

News Source

Related posts

नव संवत्सर की पूर्व संध्या पर होगा दीपदान

Beawar Plus

कमला दगदी का स्वागत किया

Beawar Plus

A.K. Tour Travels and event organizer Beawar

Rakesh Jain