A to E Beawar News Latest

गौरव पथ निर्माण में हो रही देरी पर विधायक ने जताई नाराजगी

गौरव पथ निर्माण में हो रही देरी पर विधायक ने जताई नाराजगी

शहर में निर्माणाधीन गौरव पथ में हो रही देरी को लेकर विधायक शंकरसिंह रावत ने नाराजगी जताते हुए सार्वजनिक निर्माण विभाग सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को काम समय पर पूरा करने के निर्देश दिए। इस संबंध में उन्होंने शुक्रवार को सेंदड़ा रोड स्थित अपने दफ्तर पर गौरव पथ के साथ सीवरेज, सतपुलिया चौड़ाई व शहर में चल रहे अन्य प्रमुख विकास कार्यों से संबंधित अधिकारियों और कंपनी प्रतिनिधियों की बैठक बुलाई। इसमें उन्होंने इन कार्यों को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में विधायक रावत ने शहर में 140 करोड़ रुपए की सीवरेज योजना को लेकर अधिकारियों को शहर में नई सड़कें नहीं खोदकर पूर्व में खोदी गई सड़कों को तुरंत दुरुस्त करने के निर्देश दिए। आयुक्त सुखराम खोखर ने खोदी गई ऐसी सड़कों को तुरंत सही कराने का आश्वासन दिया। गौरव पथ निर्माण में हो रही देरी को लेकर विधायक रावत ने नाराजगी प्रकट जताई तथा सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को तुरंत कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। गौरव पथ निर्माण में अड़चन बने विद्युत पोल हटाने के लिए अधिशासी अभियंता दिनेश सिंह ने 7 दिन में कार्य पूरा कराने की बात कही। साथ ही तहसीलदार मूलचंद मीणा ने भी ठेकेदार को तुरंत पेड़ काटने के लिए पाबंद किया।

सतपुलिया चौड़ाई करने के संबंध में पूछे जाने पर सतपुलिया के अंदर बीसलपुर पाइप लाइन आने की बात कही गई। विधायक रावत ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को सड़कों के पेचवर्क तुरंत करने व स्वीकृत नई सड़कों का काम भी तुरंत शुरू करने के निर्देश देते हुए कहा कि काम समय पर पूरा हो। इस पर उपखंड अधिकारी सुरेश चौधरी ने सभी अधिकारियों को कार्य तय समय सीमा में करने एवं प्रगति रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

मालूम हो कि गौरव पथ का काम मार्च 2017 से शुरू हुआ था। यह काम अब तक पूरा नहीं हो सका। बैठक में उपखंड अधिकारी सुरेश चौधरी, तहसीलदार मूलचंद मीणा, आयुक्त सुखराम खोखर, विद्युत निगम के एक्सईएन दिनेश सिंह, पीएचईडी एक्सईएन राजेंद्र जैमन, पीडब्ल्यूडी के ओपी चौहान सहित अन्य मौजूद थे।

News Source

Related posts

फास्टैग लेन में आवाजाही सुलभ, कैश में कतार

Beawar Plus

श्री सुन्दरम मोबाइल्स व इलेक्ट्रॉनिक्स

Rakesh Jain

फोर-लेन प्रोजेक्ट अधर में छोड़ने पर कंपनी को टू-लेन टोल भी छोड़ना होगा

Beawar Plus